Walt Disney The Founder Of The Disney Land

बचपन को हैप्पीनेस से भरने में अगर किसी ने सच में कंट्रीब्यूट किया है तो वो Walt Disney थे जिनके बनाए कार्टून ने लगभग हम सब के बचपन को एंटरटेन किया है। वो 20th सेंचुरी में एंटरटेनमेंट वर्ल्ड में अपने कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए फ़ेमस हैं। Walt Disney का जन्म 5 सितंबर 1901 को शिकागो, अमेरिका में हुआ, बचपन से Disney को पेंटिंग का बहुत शौक था।

उनकी फाइनेंसियल कंडीशन ठीक नहीं होने की वजह से वो स्कूल जाने से पहले न्यूज़पेपर बाटते थे फिर स्कूल जाते थे। उन्होंने बचपन में न्यूज़पेपर में आने वाले पिक्चर्स को कॉपी करके पेंटिंग सीखी। वो बचपन में आर्मी जॉइन करना चाहते थे लेकिन कम उम्र की वजह से वो जॉइन नहीं कर सके।1917 में Disney ने अपनी हाई स्कूल के दौरान एक न्यूज़पेपर में कार्टूनिस्ट के तौर पर काम किया, जिसकी इनकम से उन्होंने शिकागो फ़ाइन आर्ट्स एकेडमी से कार्टूनिस्ट का कोर्स किया।1919 में Disney केंसास सिटी आये और उन्होंने Pesman-Rubin Commercial Art Studio में आर्टिस्ट के तौर पर काम किया। वहाँ Pesman-Rubin के रेवेन्यू डाउन होने की वजह से उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया।

Pesman-Rubin Commercial Art Studio में उनकी मुलाक़ात Lwerks We से हुई और वहाँ से निकलकर 1920 में Disney ने Lwerks के साथ मिलकर Disney Lwerks Commercial Artist नाम की कंपनी बना दी, लेकिन वो भी सक्सेस न होने की वजह से उन्होंने वो कंपनी अपने पार्टनर को देदी और केंसास सिटी फ़िल्म एंड कंपनी जॉइन कर ली जहाँ उन्होंने कैमरा और एनीमेशन का काम सीखा।काम सीखने की वजह से एनीमेशन की तरफ उनका इंटरेस्ट बढ़ा और उन्होंने खुद का एनीमेशन स्टूडियो ओपन किया और “Alice In Cartoonland” और “Oswald The Rabbit” सिरीज़ लॉन्च की जो हिट साबित हुई लेकिन किसी प्रॉब्लम की वजह से वो फिर से घाटे में चले गए।

Disney को अब एक नए कार्टून कैरेक्टर की ज़रूरत थी और इस बार उनके स्टार्टिंग कंपनी के साथी Lwerks भी उनके साथ थे, फिर 1928 में दोनों ने मिलकर ‘Mickey Mouse कैरेक्टर बनाया, जिसे प्लेन क्रेज़ी नाम की शा मूवी में यूज़ किया गया।प्रोड्यूसर ने उस कैरेक्टर को इतना पसंद नहीं किया क्योंकि उन्हें लगता था कि बच्चे उस बड़े से चूहें को देखकर डर जाएंगे फिर उन्होंने Gallopin Gaucho नाम की शार्ट मूवी बनाई और वो भी सक्सेस नहीं हुई।गिव – अप करने की बजाय उन्होंने Mickey Mouse के कैरेक्टर को लेकर अपनी तीसरी मूवी “Steamboat Willie’ बनाई और Pet Power नाम के बिज़नेसमैन ने उसे डिलीवर किया। आखिरकार ये मूवी हिट साबित हुई और काफ़ी मेहनत के बाद फाइनली Disney की कंपनी ग्रो करने लगी। फिर उन्होंने Mickey के साथ Minnie Mouse, Goofy, Donald Duck और Pluto के कैरेक्टर को बनाया जो काफ़ी हिट हुए।

Disney की Mickey Mouse सिरीज़ सक्सेस तो कर रही थी लेकिन Pet Power से Disney को उनके प्रॉफ़िट का सही हिस्सा नहीं मिल रहा था और जब ये बात Disney ने Pet Power से कही तो उन्होंने Disney के साथी Lwerks को Disney से अलग करके अपने साथ ले लिया, Disney को लगा कि बिना Lwerks के Disney Studio फिर से बन्द हो जाएगा जिसकी वजह से वो डिप्रेशन में चले गए और डिप्रेशन की वजह से उनका नर्वस ब्रेकडाउन हो गया । लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और Mickey Mouse सिरीज़ को डिस्ट्रीब्यूट करने के राइट्स कोलंबिया पिक्चर्स नाम की कंपनी को दे दिए और Mickey Mouse सिरीज़ वर्ल्ड वाइड बहुत सक्सेस होने लगी।

फिर Disney ने फुल लेंथ फ़िल्म “Snow White And Seven Drafts” बनाई जो इतनी हिट साबित हुई कि Walt Disney उसकी कमाई से मिलियनर बन गए और इस मूवी को Oscar Awards भी मिले।Disney के सपने के अनुसार उन्होंने Adventure Park Disneyland बनाने की सोची, लेकिन इस प्रोजेक्ट में इन्वेस्ट करने से सभी ने इनकार कर दिया और उन्हें अपना घर और गाड़ी तक बेचनी पढ़ी और अपनी सभी टेलीविज़न सिरीज़ के टेलीकास्ट राइट्स उन्होंने ABC टेलीविज़न नेटवर्क को 5 मिलियन डॉलर्स में बेच दिए, लेकिन उनकी कार्टून सिरीज़ टेलीविज़न पर भी काफ़ी सक्सेस रही।Disney का Disneyland प्रोजेक्ट को लेकर उनका काफ़ी मज़ाक बनाया गया, लेकिन वो इसके बारे में ध्यान न देते अपने काम पर लगे रहे और जब उनका ये प्रोजेक्ट बन कर रेडी हुआ तो अमेरिका का सबसे बड़ा अट्रैक्शन बन गया और आज भी पूरी दुनिया से लोग Disneyland देखने जाते हैं।

15 दिसंबर 1966 को कैंसर से Walt Disney की मौत हो गयी, उनके मरने के बाद “Winnie The Pooh And The Blustery Day” Oscar Award मिला। उनकी कंपनी और उनकी बड़ी सोच के रिज़ल्ट्स आज भी हम देख रहे हैं, अपनी लाइफ़ में रुकावट के आने के बाद भी इनोवेटिव तरीके से कमबैक करके उन्होंने वोकर दिखाया जो उन्हें करना था।

“All our dreams can come true, if we have the courage to pursue them.”- Walt Disney

Leave a Reply

error: Content is protected !!