Elon Musk Real Entrepreneur

एक सक्सेसफुल बिज़नेसमैन, एक इन्वेंटर, एक इंजीनियर और डिज़ाइनर है जिनके रेवोल्यूशनरी आईडिया ने दुनिया को बदल के रख दिया है। वो इंसान की संभावनाओं से आगे की तैयारियों से जुड़े प्रोजेक्ट्स में सक्सेसफुल तरीके से लगे हुए हैं। उनकी लाइफ़ की जर्नी एक बिज़नेसमाइंडेड पर्सन या जो अपनी लाइफ़ में कुछ अलग सोच के ज़रिए से कुछ करना चाहते है उनके लिए काफ़ी मददगार साबित होती है,

वो SpaceX के फाउंडर और CEO हैं, साथ ही वो बोरिंग कंपनी और x.com के फाउंडर और नेऔरा लिंक, openAl, Zip2 में को-फाउंडर हैं और सोलरसिटी के चैयरमेन भी हैं Elon Musk का जन्म 28 जून 1971 को प्रीटोरिया, अफ्रीका में हुआ, उनके पिता एक इंजीनियर और पायलट थे और उनकी माँ एक मॉडल थी, जब Elon 9 साल के थे तब उनकी माँ और पिता का तलाक हो गया था और वो उनके पिता के साथ रहे जबकि उनके भाई और बहन उनकी माँ के साथ रहे।

वो बचपन से बुक्स और इंवेंशन्स के बारे में काफ़ी फोकस्ड थे क्योंकि उनका उसमे इंटरेस्ट था और जब वो पूरे फोकसके साथ इन सब चीज़ों के बारे में पढ़ते थे तो अगर कोई उन्हें आवाज़ लगाता तो उन्हें उनकी आवाज़ सुनाई नहीं देती थी, इसी के चलते उनके पेरेंट्स ने उस इंसिडेंट के बारे में डॉक्टर्स से कंसल्ट भी किया कि कहीं वो बहरे तो नहीं हैं लेकिन ऐसा नहीं था, ये सिर्फ़ ज़्यादा फोकस के कारण था । 10 की उम्र में उनके पिता ने उन्हें एक कंप्यूटर दिलाया जिसे उन्होंने खुद से बिना किसी टीचर की हेल्प से सीखा और 12 कि उम्र में उन्होंने उस कंप्यूटर की हेल्प से Blast नाम का एक गेम बनाया और एक कंपनी को 500 डॉलर्स में बेच दिया।

17 कि उम्र में वो कनाडा अपनी माँ के रिलेटिव के पास चले गए और ” Queen University” में एडमिशन लिया, उसकी मैन वजह यह थी कि उन्हें अमेरिका जाना था और उन्हें लगा कनाडा के सिटीज़न बनने से अमेरिका जाना आसान होगा। फाइनली 1992 में Musk ने “Pennsylvania University” में फिजिक्स और इकोनॉमिक्स में एडमिशन लेने के लिए कनाडा छोड़ दिया और अमेरिका चले गए। Pennsylvania से निकलने के बाद 1995 में Musk ने Stanford university में फिजिक्स एंड मटेरियल साइंस में Phd. करने के लिए एडमिशन लिया, लेकिन 2 दिन के बाद उन्होंने वहाँ से स्टडी छोड़ दी क्योंकि वो अब बिज़नेस में जाना चाहते थे।

उसी साल 1995 में Elon ने उनके भाई Kimbal Musk के साथ मिलकर Zip2 नाम की कंपनी की शुरुआत की, जो ऑनलाइन न्यूज़पेपर इंडस्ट्री के लिए सिटी गाइड का काम करती थी। जिसे बाद में Compaq नाम की कंपनी को बेच दिया और ओवरऑल 307 मिलियन डॉलर्स मिले जिसमें से Elon Musk को 22 मिलियन डॉलर्स मिले फिर उन्होंने उसी पैसों से x.com नाम की एक वेबसाइट बनाई जो ऑनलाइन पेमेंट ट्रांसफर की सर्विस प्रोवाइड करती थी, जो बाद में जाकर Paypal बनी।जुलाई 2002 में Paypal को ebay.com ने ख़रीद लिया जिससे अकेले Elon Musk को 165 मिलियन डॉलर्स मिले लेकिन वो इन सब से भी सेटिस्फाइड नहीं थे, वो दुनिया मे कुछ रेवोलुशन लाना चाहते थे इसलिए उन्होंने Paypal से मिलने वाली सारी कमाई को SpaceX में लगा दिया।

वो लोगों को दुनिया से दूर स्पेस में भेजने की प्लानिंग कर रहे थे और उसी के लिए उन्होंने 2002 में “Space Exploration Technologies Corp. ” नाम की कंपनी बनाई, उससे पहले एयरोस्पेस के सेक्टर में कोई भी प्राइवेट कंपनी नहीं थीSpaceX में अपनी सारी कैपिटल लगाने के बाद Elon के पास रहने के लिए घर भी नहीं बचा था और मुश्किलों की बात करे तो शुरुआत में उनके कंपनी के 3 रॉकेट लांच फैल हो गए थे जिसकी वजह से अब उनके पास सिर्फ़ उतना ही पैसा बचा था कि वो इस प्रोजेक्ट को बन्द कर दे या एक लास्ट रॉकेट लांच कर सके ।

अगर लास्ट रॉकेट लॉन्च फ़ेल हो जाता तो Elon के पास कुछ नहीं बचता क्योंकि उन्होंने अपना सब कुछ दाव पर लगा दिया था और लास्ट 4th रॉकेट लॉन्च सक्सेस हुआ और SpaceX के शेयर्स की रेट बढ़ने के साथ उनकी कंपनी सक्सेस की तरफ मुड़ गयी।उन्हें रेवोल्यूशनरी आईडिया पसंद है इसलिए उन्होंने 2004 में Tesla नाम की कंपनी में पैसा इन्वेस्ट किया जो Tesla Coil के आधार पर अपनी कार बना रही थी, आज कई देशों में वो कार अपनी अच्छी परफॉर्मेंस दे रही है और वो कार एनवायरनमेंट के लिए भी अच्छी साबित हो रही है, Elon Musk इस कंपनी के CEO भी हैं।

उनका Solar City नाम से प्रोजेक्ट भी चल रहा है जो अमेरिका की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है, जो सोलर एनर्जी से इलेक्ट्रिसिटी जनरेट करने का काम करती है और साथ ही उनका Hyperloop नाम से प्रोजेक्ट भी चल रहा है, जो पब्लिक ट्रांसपोर्ट का बहुत अच्छा तरीका है और बहुत तेज़ भी हैं।Elon Musk ने Iron man 2 में एक शार्ट रोल भी किया है, Elon ने बचपन से ही यकीन न हो ऐसे काम करने शुरू कर दिए थे, जिन काम के बारे में वो नहीं जानते थे उसे भी वो खुद से सीख कर अंजाम दे देते थे, उन्होंने रॉकेट साइंस की कोई स्पेशल पढ़ाई नहीं की लेकिन उन्होंने रॉकेट भी डिज़ाइन किये।उनका एक ही मानना है कि अगर आप अपनी लाइफ़ में कुछ नया नहीं कर रहे हैं तो ये बहुत बुरी बात है। आपको हमेशा कुछ नया ट्राई करते रहना चाहिए।

“If you get up in the morning and think the future is going to be better, it is a bright day. Otherwise, it’s not.” – Elon Musk

Leave a Reply

error: Content is protected !!