Bill Gates Founder Of The Microsoft

  • दोस्तों पर्सनल कंप्यूटर के दौर में Bill Gates का नाम न आये ऐसा हो ही नही सकता । जिन्होंने पर्सनल कंप्यूटर को बेहतर बनाने में अपनी पूरी लाइफ़ दे दी । बचपन से ही कंप्यूटर में इंटरेस्ट रखने वाले Bill का जन्म एक धनी परिवार में हुआ, उनके पिता एक वकील थे, उनके घर वाले चाहते थे कि वे भी उनके पिता के जैसे वकील बने लेकिन उनका ध्यान हमेशा कंप्यूटर और प्रोग्रामिंग में ही रहता था। सिर्फ़ 13 साल की उम्र में उन्होंने Tic Tac Toe नाम का गेम बना दिया था क्योंकि वे स्टार्टिंग से उसमें इंटरेस्ट रखते थे। वे हमेशा कंप्यूटर के मामले में उत्सुक रहते थे, वे पढ़ाई में भी इतने आगे थे कि उन्होंने SATS नाम के एग्ज़ाम में 1600 में से 1590 नंबर लाये थे। उन्होंने एक बार स्कूल में सिर्फ़ लड़कियों को इम्प्रेस करने के लिए स्कूल का कंप्यूटर नेटवर्क हैक कर लिया था।उन्होंने सिर्फ़ 17 साल की उम्र में अपने Alen नाम के दोस्त के साथ मिलकर Traf O Data नाम का डिवाइस बनाया जो ट्रैफिक काउंटर का काम करता था | वो इतना हिट हुआ कि उन्हें अहसास हो गया कि उन्हें खुद की सॉफ़्टवेयर कंपनी बनानी चाहिए और अप्रैल 1975 में उन्होंने Harward University छोड़ कर Paul Alen के साथ मिलकर खुद की कंपनी बना दी ।उस टाइम उन्हें अंदाज़ा नही था कि वो दुनिया की एक सबसे बड़ी कंपनी बनाने जा रहे है, वे बिज़नेस में इतने एक्सपर्ट थे कि 1981 में IBM ने एक ऑपरेटिंग सिस्टम बनाने के लिए Bill Gates को कहा तो Bill Gates ने उसको बनाने की बजाय Tim Peterson (कंप्यूटर इंजीनियर) के पास गए जिनके पास ऑलरेडी वो ऑपरेटिंग सिस्टम बना हुआ था ।Bill Gates ने उनसे उस ऑपरेटिंग सिस्टम को 50000 डॉलर में खरीद लिया और IBM को रॉयल्टी पर बेच दिया उसका नाम Ms-Dos था, जिसके पैसे 6 महीने में ही वसूल हो गए थे। वह हर मामले में बिज़नेस की खोज करते रहते है। वो अपने काम को लेकर इतने क्यूरियस और डिवोटेड थे और साथ ही हर छोटी से छोटी चीज़ का इतना ध्यान रखते थे कि उनका कहना था कि वे वीकेंड और छुट्टियों पर जाने में विश्वास नहीं करते और उनकी कंपनी में काम करने वाले हर एक व्यक्ति की कार की नंबर प्लेट उन्हें याद थी ताकि वे ये पता कर सके कि कौन किस समय काम पर आता है और जाता है।इसी हार्ड वर्क ने उन्हें बाउंडलेस सक्सेस दिलाई। इसी हार्ड वर्क की वजह से कुछ सालों में ही 1987, 31 साल की उम्र में दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में Bill Gates का नाम आ चुका था। उन्होंने एक इंटरव्यू में भी कहा था कि उनकी इस सक्सेस के पीछे बुक्स का ही हाथ है, वे एक साल में 50 बुक्स पढ़ते हैं जिनसे उन्हें जो कुछ भी सीखने को मिलता है वो अपनी रियल लाइफ़ में करने की कोशिश करते है। अपनी सक्सेस के पीछे का सारा क्रेडिट वे किताबे पढ़ने और नई चीजें सीखने को देते है। एक बार उन्होंने कहा कि उनकी लाइफ़ का सबसे बड़ा रिग्रेट ये है कि वो इंग्लिश के अलावा कोई दूसरी लैंग्वेज नही जानते, इस बात से आप अंदाज़ा लगा सकते हो उनके अंदर नई चीज़ें जानने की कितनी जिज्ञासा है।1994 ✈ Andrew carnegie john D Rockefeller से इंस्पायर होकर उन्होंने अपनी कंपनी के कुछ शेयर बेचकर “William H Gates Foundation ” की स्थापना की और 2000 में अपनी पत्नी के साथ मिलकर “Bill And Melinda Gates Foundation “खोला जिसके लिए उन्होंने अपनी कंपनी के 5 बिलियन डॉलर के शेयर बेच दिए, जो NGO के लिए पैसा इकट्ठा करती है। 2007 में उन्होंने अपनी नेट वर्थ का 95% पैसा दान दे दिया था। 2013 के अकॉर्डिंग उनका ये फाउंडेशन दुनिया का सबसे वैल्युएबल फाउंडेशन बन गया था । Bill 1995 से 2007 तक दुनिया के सबसे अमीर आदमी बने रहे, 2007 में डोनेशन की वजह से वो पीछे हो गए थे।Bill ने अपने बच्चों की सक्सेस के बारे में ये भी कहा था कि वे अपने तीनों बच्चों को अपनी बिलियन डॉलर्स की संपत्ति में से सिर्फ 10-10 मिलियन देंगे क्योंकि वे अपने बच्चों को आलसी नहीं बनाना चाहते। आज वे जो भी काम कर रहे है सिर्फ़ समाज सेवा के लिए कर रहे है।हमे Bill Gates की लाइफ़ से बहुत कुछ सीखने को मिलता है कि दुनिया में हर एक काम को डेडिकेशन और पूरी इंटेलिजेंस के साथ किया जाए तो सफलता मिलते देर नही लगती, बड़ा काम करने के लिए एजुकेशन से ज़्यादा मायने अपने अंदर का इंटरेस्ट, हर चीज़ का नॉलेज और नया सीखने की क्यूरियोसिटी रखती है।”It’s fine to celebrate success but it is more important to heed the lessons of failure.”- Bill Gates

Leave a Comment

error: Content is protected !!